ca-foundation-ke-baad-samay-ka-upyog

CA फाउंडेशन परीक्षा के बाद छात्र क्या करें ?

CA फाउंडेशन की परीक्षा खत्म हो चुकी है लेकिन अब समझ नहीं आ रहा क्या करें | यह केवल आपकी ही नहीं हर उस स्टूडेंट की प्रॉब्लम है जो CA फाउंडेशन की परीक्षा पास कर चूका है | CA कोर्स कठिन है लेकिन इसका मतलब ये नहीं की परीक्षा खत्म होते ही आप बिना रेस्ट किये फिर से अगले एग्जाम की तैयारी में लग जाये | सबसे पहले तो कुछ दिन के लिए रेस्ट लें मूवी देखे, फ्रेंड्स से मिले जिससे की पिछले कुछ दिनों में आपने एग्जाम की तैयारी में आपने  ऊपर जो स्ट्रेस था वह दूर हो |

अगर आपको लगता है CA फाउंडेशन की परीक्षा आप पास कर लेंगे या फिर आप चाहे आश्वस्त ना हो की आप इस परीक्षा को पास कर लेंगे तो भी आपको CA इंटरमीडिएट की परीक्षा की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए | इसका मतलब ये नहीं की आप किताब खोलकर पढ़ने बैठ जायें | जैसा की आप जानते है की CA कोर्स में प्रवेश करना आसान है लेकिन निकलना मुश्किल | इसलिए आपको अपने सीनियर्स से सलाह लेनी चाहिए | उन सीनियर्स से जो इंटरमीडिएट की परीक्षा को पास कर चुके है | वे आपको किस तरह पढाई करनी चाहिए और कैसा पैटर्न रहेगा | इसके बारे में सही सलाह देंगे| लेकिन ये ध्यान रखे की हमेशा सही मेंटर चुने जो की आपको सही राह दिखा सके |

हम आपको कुछ सुझाव दे रहे है जिन्हे आप इस खाली समय में आजमा सकते है –

इंटरमीडिएट रजिस्ट्रेशन की जानकारी लें – इस खाली समय में आप ca इंटरमीडिएट रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की जानकारी ले सकते है इसके लिए अंतिम समय का इंतज़ार ना करें | और अगर आपको विश्वास है की आप यह परीक्षा पास कर लेंगे तो फिर आपको रजिस्ट्रेशन की पूरी तैयारी पहले से ही कर लेनी चाहिए | इसके साथ ही आपको रजिस्ट्रेशन कब से शुरू होंगें और उसकी लास्ट डेट क्या है इसका पता होना चाहिए|

तय करें कोचिंग या सेल्फ स्टडी – आगे की पढाई के लिए आपके दिमाग में यह क्लियर होना चाहिए की आप
सेल्फ स्टडी करेंगे या फिर कोचिंग | कुछ लोग आपको सेल्फ स्टडी करने की सलाह देंगे | कुछ आपके रिस्तेदार हो सकते है जो ये कहेंगे की उन्होंने भी परीक्षा बिना किसी कोचिंग और किसी के गाइडेंस के केवल घर पर ही पढाई करके पास कर ली थी | लेकिन फ्रेंड्स समय बदलने के साथ साथ ही CA कोर्स में कॉम्पिटिशन तो बढ़ा ही है साथ ही पेपर भी टफ हुआ है ऐसे में अच्छे नंबर लाने के लिए आपको अच्छी कोचिंग और मार्गदर्शन की जरुरत है |

आज के समय में ज्यादातर छात्र CA की कोचिंग ले रहे है लेकिन इसके बावजूद भी पासिंग परसेंट तो कम ही रहता है | इसकी वजह है की ICAI ने रिजल्ट को और भी टफ कर दिया है | पहले जहां केवल सही उत्तर देकर पास हो जाते थे वही अब सही उत्तर के साथ ही आपका प्रस्तुतिकरण कैसा है और आप प्रश्न को कितने अच्छे से समझ पा रहे हो यह भी मायने रखता है |

कोचिंग कैसे चुने – एक बार आप अगर तय कर लेते है की आपको सेल्फ स्टडी करनी है या कोचिंग | तो इसके लिए आप अपने सीनियर्स से अच्छी कोचिंग के बारे में जान सकते है | उस कोचिंग को चुने जहां पढाई का अच्छा माहौल हो और पिछले सालों में उस कोचिंग इंस्टीट्यूट ने अच्छा रिजल्ट दिया हो | सभी विषयों के लिए एक ही कोचिंग इंस्टीट्यूट को चुने | इससे आपके कीमती समय की बचत होगी | इसके बाद आप अपने अध्यापकों के गाइडेंस के साथ पढाई में लग जायें |

किताबें चुने – अगर आपने सोच लिया है की आप सेल्फ स्टडी करेंगें तो फिर आप उन किताबों को को चुन लें जिससे आप पढाई करेंगे | सही किताबें चुनने के लिए आप अपने दोस्तों की सलाह ले सकते है या फिर अधिक जानकारी के लिए गूगल पर सर्च कर सकते है | या फिर आप जहां से आपने ca फाउंडेशन की कोचिंग ली थी उन टीचर्स से भी सही राय ले सकते है | लेकिन साथ ही पढाई के लिए ICAI के मॉड्यूल के हिसाब से पढाई करें |

एक ग्रुप या दोनों ग्रुप – CA फाउंडेशन के रिजल्ट के आने से पहले यह तय कर लें की आप CA इंटरमीडिएट के एक ग्रुप की परीक्षा देंगे या दोनों ग्रुप की | यह तय करने के बाद आप अपनी तैयारी भी उसी हिसाब से करें | इससे आपका कीमती समय बच जायेगा नहीं तो बहुत से स्टूडेंट रिजल्ट आने के बाद लम्बे समय तक यही तय नहीं कर पाते है की उन्हें एक ग्रुप की परीक्षा देनी है या दोनों ग्रुप की |

तो अब आप जान ही चुके होंगे की CA फाउंडेशन का रिजल्ट आने से पहले आप अपने समय का केसे सदुपयोग कर सकते है|